how to improve handwriting with simple tricks

हैंडराइटिंग कैसे सुधारे? बेहतरीन टिप्स

अगर हमारे देश भारत की बात करू तो हैंडराइटिंग को बोहत ही महत्व दिया जाता है। और जिसकी handwriting अच्छी नहीं है वो हमेसा सोचते रहते है की how to analysis my हैंडराइटिंग, मेरी हैंडराइटिंग कैसे सुधारू।  लेकिन सोचने से हैंडराइटिंग अच्छी नहीं होने वाली handwriting को improve करने के लिए हमे मेहनत करनी पड़ती है।

Improve handwriting
Improve handwriting

बचपन से किसीकी भी हैंडराइटिंग अच्छी नहीं होती है। उसको सुधारने के लिए हर किसीको मेहनत करनी पड़ती है। क्यों की हैंडराइटिंग अच्छी निकलना भी एक कला है। और किसी भी कला को सिखने के लिए हर किसीको मेहनत करनी ही पड़ती। है  लेकिन मेहनत कैसे करे? तो में आज आपको इस पोस्ट में सारी टिप्स देने वाला हु की handwriting को कैसे जल्दी से जल्दी ठीक किया जाय। मेने भी अपनी हैंडराइटिंग को सुधरने के लिए बोहत मेहनत की थी।

Writing ज्यादा से ज्यादा करे 

हैंडराइटिंग को सुधारने का कोई platform है तो वो है राइटिंग। बिना राइटिंग बिना लिखे हम अपनी handwriting को कभी नहीं सुधार सकते है। इसलिए handwriting को सुधारने के लिए writing पे सबसे ज्यादा ध्यान देना चाहिए।

अगर बात student life की की जाय तो उसमे writing करने का मौका हमे बोहत ही मिल जाता है। और कहिना  कही teacher का ज्यादा homework देने का कारण भी यही है, की student की handwriting सुधरे। जितना ज्यादा लिखेंगे उतनी ही हमारी प्रैक्टिस बढ़ेगी और वर्ड बोहत ही सुन्दर निकलने लगेंगे। लिखने से हमे मालूम चल जाता है की, वर्ड ज्यादा बड़े है, या ज्यादा छोटे है, या बड़े छोटे आ रहे है। इन सारी गलतियों को हम  स्टेप से स्टेप सुधार सकते है। और इस तरह हम अपनी हैंडराइटिंग को और इम्प्रूव कर सकते है।

जब हम फ्री है, हमारे पास कोई रफ पेज है, पेन है, तो हमे तुरंत ही लिखना स्टार्ट कर देना चाहिए। कुछ भी लिखते रहना चाहिए। तो हमारे फ्री टाइम का उपयोग हो जाये और हमारी writing भी सुधर जाये।

Handwriting improve के लिए पेन पर ध्यान दे। 

handwriting अच्छी न आने का कारण  पेन भी हो सकता है। हम कई बार लिखते समय बार बार पेन बदलते रहते है। पेन भी हैंडराइटिंग के लिए important thing है।

  • पेन को बोहत ही पतला और मोटा उपयोग न करे। पेन midium size की हो। जो हम आसानी से पकड़ सके। और मनचाही handwriting निकाल सके।
  • पेन को पकड़ने का ढंग सही रखे। ज्यादा निचे से और ज्यादा ऊपर  से या ज्यादा निचे से न पकड़े।
  • पेन पर उतना ही वजन दे जितना लिखने में जरूर हो। ज्यादा वजन देने से अक्षर टेढ़े आने लगते है।

Read More…

कॉपी करते वक्त ध्यान दे 

copy paste का इफ्फेक्ट हाँ हैंडराइटिंग पर बोहत ही पड़ता है। क्यों की जब हम कॉपी करते करते लिखते है तो हमारा ध्यान भटक जाता है। लिखने का काम और सोचने काम दोनों साथ में  हो जाता है. उस समय हमारी हैंडराइटिंग किसी भी निकलती है लेकिन हम ध्यान नहीं देते। और बिना ध्यान के हैंडराइटिंग खराब ही निकलेगी।

तो हमे copy करते समय हमेसा ध्यान से लिखना चाहिए। उस समय भी लिखने पर ध्यान देना चाहिए। अच्छे और सुन्दर वर्ड्स में लिखना चाहिए। हर अक्षर का आकर सही होना चाहिए। और मन को पूरा राइटिंग पे लगाना चाहिए।

जल्दी जल्दी ना लीखे।

बोहत लोगो की आदत होती है की वो बोहत ही फास्ट फास्ट लीखते है। और जेसे मनमे आए वेसे अक्षर नीकालते है। जो हमारी handwriting पर बोहत ही बुरा प्रभाव पडता है। बीना ढंग के word नीकालने की आदत सी हो जाती है। और handwriting खराब हो जाती है। लेकीन हमे एसा नही करना है। अगर हमारी handwriting खराब है तो हमे कभी जल्दी जल्दी मे नही लीखना चाहीए।

अच्छी लिखावट के फायदे 

अच्छी हैंडराइटिंग के फायदे बोहत है।

  • अच्छी लिखावट से स्कूल में हमारे प्रति सब अछि नजर से देखते है।
  • अच्छी हैंडराइटिंग की वजह से टीचर हमे लिखने के काम सबसे पहले सोपते है। जिसकी वजह से बाकि स्टूडेंट की नजर में हम clever लगते है।
  • अच्छी हैंडराइटिंग सबको पसंद आती है। हर कोई लेटर एप्लीकेशन लिखवाने के लिए हेल्प मांगेगा। जो गर्व की बात हो सकती है।
  • अच्छी हैंडराइटिंग से एग्जाम में अच्छे मार्क्स मिलते है। जो भाषा के सब्जेक्ट्स में मिलते है। जैसे की हिंदी, गुजरती, इंग्लिश।

आज  हमने आपको हैंडराइटिंग सुधरने के टिप्स और फायदे बताये है। जो आपको बोहत ही पसंद आया होगा। आपको हेल्पफुल आर्टिकल लगे तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले।

हमारे ये आर्टिकल्स भी पढ़े

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »